भारत में कोरोना से घटा अखबारों का विस्तार, जल्द ही डिजिटल के पाठक होंगे 28 करोड़ के पार

कोरोना का यह संकट भले ही समाचार पत्रों के वितरण के लिए बड़ा संकट साबित हुआ है, लेकिन डिजिटल मीडिया के लिए संभावनाओं के द्वार भी खोलता दिख रहा है। सस्ते डेटा के बाद अब कोरोना के इस संकट के चलते तमाम समाचार पत्र भी पाठकों की पीडीएफ कॉपी ईमेल कर रहे हैं। इसके अलावा न्यूज वेबसाइट्स के पाठकों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हुआ है। KPMG की एक स्टडी के मुताबिक देश में 2021 तक ऑनलाइन समाचार पढ़ने वाले लोगों की संख्या 28 करोड़ के पार हो जाएगी।

यही नहीं यह भारतीय भाषाओं में ऑनलाइन समाचार पढ़ने वाले लोगों की संख्या इंग्लिश में न्यूज पढ़ने वालों से कहीं आगे होगी। 2021 में 28 करोड़ यूजर्स में से सिर्फ 8.5 करोड़ लोग ही ऐसे होंगे, जो अंग्रेजी के पाठक होंगे। इनके अलावा अन्य सभी हिंदी समेत अन्य 8 भारतीय भाषाओं के रीडर होंगे। ये वे भाषाएं हैं, जिन्हें गूगल सर्च इंजन में शामिल किया गया है। जैस- हिंदी, बंगाली, तेलुगु, तमिल, मराठी, गुजराती, कन्नड़ एवं मलयालम।

Comments

  • By buy real cialis online
    2020-05-31 18:07:14

    Touche. Outstanding arguments. Keep up the great work.

  • By order cialis online
    2020-06-01 17:13:30

    Great delivery. Solid arguments. Keep up the great effort.

  • By cialis generic canada
    2020-06-03 11:13:01

    Hello mates, its wonderful article about cultureand completely explained, keep it up all the time.

  • By wallet with notebook and pen
    2020-11-07 00:57:56

    Hey very interesting blog!

  • By KmrfAnert
    2020-11-10 22:35:57

    generic viagra pills http://usggrxmed.com/ brand viagra online generic name for viagra

  • By lined refill sheets paper
    2020-11-12 01:01:35

    Thanks to my father who told me on the subject of this webpage, this web site is actually awesome.

  • By FevbAnert
    2020-11-15 20:51:40

    buy viagra au wowviaprice.com buy viagra on line

  • By Fdbvneicy
    2020-11-20 15:01:25

    viagra professional sildenafil in india viagra soft tabs online

  • By ManyHComas
    2020-11-28 00:40:29

    Awesome post.

  • By Fgsneicy
    2020-11-28 15:28:48

    write an article review geometry help geography thesis

Write A Comment